बस अब दु:ख और नहीं
Call Us: +91-124-6674671


Sanjay Dutt
NAME:

Sanjay Dutt

DATE OF BIRTH:29 July 1959
TIME OF BIRTH:03:00 PM
PLACE OF BIRTH:Mumbai, Maharashtra
Sanjay Dutt kundali


संजय दत्त का जन्म फिल्म अभिनेता सुनील दत्त के घर पर 29 जुलाई सन् 1959 को हुआ था। उनकी जन्म कुंडली के अनुसार उनका जन्म सूर्य की महा दशा में हुआ था जोकि सन् 1963  उनका अपने बेटे से ना बनना, आपस में मतभेद रहना। इसी दशा ने इनके गुस्से को और नकारात्मक सोच को बढ़ाया। 

 

इसी के चलते सन् 1980 से राहु की महादशा का उनके जीवन में आगमन हुआ।  इसी महादशा से  इनको जीवन में अनेक उतार चढ़ाव भी देखने को मिले क्योकि जन्म कुंडली में 11 वे घर में बैठा राहु इंसान को रुपये-पैसे के मामले में हमेशा समस्यां बना कर रखता है तथा इसी राहु की महादशा में इनकी माता का देहान्त हुआ। 10वे घर में बैठे शुक्र - मंगल में इनको प्रेम संबंधों में डाला और इनको कला के क्षेत्र से भी जोड़ा और 1987 में विवाह सम्पन हुआ।   

 

इनकी जन्म कुंडली में शुक्र की खराबी के कारण इनको जीवन साथी के सुखों में कमी का सामना करना पड़ा। जिसके चलते इनके जीवन साथी को शारारिक और मानसिक दुखों का सामना करना पड़ा। इनकी जन्म कुंडली में चंद्र और बुध खराब होने के कारण इनको गलत विचार और गलत रास्ते पर चलने का कार्य करवाया तथा इस दौरान सन् 1993 में राहु और शनि के मेल से इनको बदनामी का और सरकारी क्षेत्र से मुश्किलों का सामना करना पड़ा जोकि 1998 तक हावी रहा  परंतु गुरु की दशा में   1998 से 2014 तक उनके जीवन में रही इस दशा में उनको स्वभाव से बदलने का काम किया और सकारात्मक सोच को जन्म दिया तथा गुरु से शुक्र के अंतर में सन् 2007 में उनको 7 साल का कारावास की सजा भी हुई।  

 

आज की शनि की महादशा के अनुसार जोकि 2013 से 2032 तक उनके जीवन में अनेक प्रकार के कष्ट व समस्यां पैदा करेगी क्योकि शनि की खराबी इनके जीवन में 2032 तक रहेगी जिसमे इनको सेहत और सरकारी क्षेत्र से समस्यां का सामना करना पड़ सकता है तथा आने वाला समय इनके लिए नसों व मानसिक परेशानियों का रहेगा तथा 2019 से 2022 तक वह अपनी कला से एक सुपर डुपर हिट फिल्म अपने दर्शको के लिए लेकर साबित होंगे।

 




Contact Info
Follow Us
           
     

We accept all these major cards

Copyright © 2005 - 2017. G D Vashist & Associates Pvt. Ltd. All Rights Reserved.
हिंदी में पढ़े